ऑनलाइन-कंपनियों की मेगा सेल, जानिए छूट के पीछे की कहानी:आज से बिग बिलियन डेज, आईफोन से लेकर कपड़ों पर 85% तक डिस्काउंट
Spread the love

बात साल 2014 की है। भारत की ई-कॉमर्स इंडस्ट्री तेजी से बढ़ रही थी। लोग ऑफलाइन से ऑनलाइन शॉपिंग की ओर शिफ्ट हो रहे थे। तब सात साल पुराने एक स्टार्टअप फ्लिपकार्ट के फाउंडर्स सचिन बंसल और बिनी बंसल ने एक बड़ा दांव लगाया। लक्ष्य था भारत के लोगों के शॉपिंग एक्सपीरिएंस को पूरी तरह से बदल देना। 6 अक्टूबर 2014 को कुछ ऐसा होने वाला था जो भारत के लोगों के लिए बिल्कुल नया था।

www.vagmiinfotech.com

अपार्टमेंट का नंबर 610 था, इसलिए 6/10 तारीख चुनी
सचिन और बिनी ने 6/10/2014 की तारीख इसलिए चुनी थी क्योंकि जिस अपार्टमेंट से उन्होंने फ्लिपकार्ट की शुरुआत की थी, उसका नंबर भी 610 था। इस इवेंट को नाम दिया गया ‘बिग बिलियन डेज।’ 2-3 महीने पहले से इस दिन के लिए तैयारी चल रही थी। इवेंट को सफल बनाने का सबसे ज्यादा दारोमदार टेक टीम पर था, क्योंकि कंपनी को इस दिन ट्रैफिक 25 गुना तक बढ़ने की उम्मीद थी।

100 मिलियन डॉलर का टारगेट रखा
ज्यादा ट्रैफिक के कारण वेबसाइट क्रैश न हो और यूजर को बेहतरीन एक्सपीरिएंस मिले, इसके लिए 5000 से ज्यादा सर्वर डिप्लॉय किए गए। अखबार और टीवी पर बड़े-बड़े विज्ञापन दिए गए। कंपनी ने इस दिन के लिए 24 घंटे में 100 मिलियन डॉलर GMV का टारगेट रखा था। GMV यानी ग्रॉस मर्चेंडाइज वैल्यू। ग्रॉस मर्चेंडाइज वैल्यू ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म के माध्यम से एक निश्चित अवधि में बेचे गए माल का कुल मूल्य है।

24 घंटे का टारगेट 10 घंटे में पूरा हुआ
6 अक्टूबर 2014 को सुबह 8 बजे ‘बिग बिलियन डेज’ सेल लाइव हो गई। सेल में प्रोडक्ट की एक बड़ी रेंज पर 80-90% तक का डिस्काउंट दिया गया। कई प्रोडक्ट को तो केवल एक रुपए में सेल पर रखा गया। भारत के लोगों ने पहले कभी इस तरह का अनुभव नहीं किया था और फ्लिपकार्ट को लोगों का इतना बेहतरीन रिस्पॉन्स मिला कि उसने 24 घंटे का जो टारगेट रखा था वो आधे से कम समय यानी 10 घंटे में ही पूरा कर लिया।

15 लाख से ज्यादा लोगों ने की खरीदारी
15 लाख से ज्यादा लोगों ने इस दिन खरीदारी की थी। भारत की ई-कॉमर्स इंडस्ट्री के इतिहास में ऐसा पहले कभी नहीं हुआ था। मीडिया में इसकी तुलना अमेरिका की ब्लैक फ्राइडे सेल से की गई। तब से हर साल फ्लिपकार्ट बिग बिलियन डेज आयोजित करता है। फ्लिपकार्ट के बिग बिलियन डेज के कॉम्पिटिशन में अमेजन ने भी ग्रेट इंडियन फेस्टिवल शुरू किया है। हर साल इसे भी दिवाली से पहले आयोजित किया जाता है।

इस कहानी को पढ़ने के बाद कई लोगों के मन में सवाल होगा कि आखिर ये ई-कॉमर्स कंपनियां इतना भारी भरकम डिस्काउंट कैसे ऑफर करती हैं? इसका गणित क्या है? कंपनी इस सेल से कितना पैसा कमा लेती है? कंपनियों का बीते सालों की सेल में ट्रेड वॉल्यूम और रेवेन्यू कितना रहा है? क्या ये सेल सच में ग्राहकों के लिए बेनिफिशियल है? इन सभी सवालों के जवाब जानने से पहले इस बार की सेल की ब्लॉक बस्टर डील्स के बारे में जान लेते हैं।

आज से शुरू हुई अमेजन-फ्लिपकार्ट की सेल
फ्लिपकार्ट और अमेजन की सेल 23 सितंबर की रात 12 बजे से सभी के लिए शुरू हो गई है। सेल में स्मार्टफोन से लेकर कपड़े, होम एप्लायंसेज, गैजेट सहित प्रोडक्ट की एक लंबी रेंज पर भारी डिस्काउंट मिल रहा है। हमेशा की तरह प्राइम मेंबर्स के लिए सेल एक दिन पहले यानी 22 तारीख से शुरू हो चुकी है। सेल प्राइसेज ऐप और वेबसाइट पर लाइव हो गए हैं।

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.